news21cg

death

 उत्तर प्रदेश के कानपुर से एक दिल दहला देने वाली खबर सामने आई है। दरअसल यहां के जेके कॉटन मिल में एक रिटायर्ड 75 साल के वृद्ध ने ट्रेन के आगे कूदकर खुदकुशी कर ली, जिसकी वजह से इलाके में सनसनी मच गई है। इतना ही नहीं बल्कि उन्होंने बुलडोजर बाबा यानी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम सुसाइड नोट लिखकर छोड़ा है, आइए जानते है क्या है पूरा मामला…

उत्तर प्रदेश में आत्महत्या मामला

आपको बता दें कि सुसाइड नोट में बुजुर्ग ने जेके कॉटन मिल के अधिकारियों पर गंभीर आरोप लगाए हैं। ऐसे में आत्महत्या करने से पहले उन्होंने सीएम योगी और पीएम मोदी से न्याय की गुहार लगाते हुए लिखा कि ‘दोषियों को बख्शा ना जाए। आपको बता दें कि आत्महत्या का यह मामला फजलगंज थाना क्षेत्र के कमला क्लब इलाके का है।

साथी कर्मचारी करते थे परेशान

इस घटना के बारे में जानकारी देते हुए पुलिस ने बताया कि मृतक बुजुर्ग का नाम नारायण श्रीवास्तव था। सुसाइड नोट के मुताबिक, जेके कॉटन मिल के प्रबंधक संजय दुबे और सुरक्षा अधिकारी रविंद्र सिंह उन्हें प्रताड़ित करते थे। बुजुर्ग ने लिखा कि इन दोनों ने मिलकर उनके घर की बिजली और पानी तक का कनेक्शन कटवा दिया है। इतना ही नहीं बल्कि कंपनी की तरफ से उन्हें कुछ रुपये दिए जाने थे। वे भी उन्हें नहीं दिए गए।

यह भी पढ़ें

मौत पर परिजनों ने किया हंगामा

अब इस घटना के बाद पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सौंप दिया, लेकिन परिजनों ने कमला क्लब गेट के पास शव को रखकर खूब हंगामा किया और दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की। पुलिस अधिकारियों ने समझा बुझाकर उन्हें शांत कराया। साथ ही FIR दर्ज करके आरोपियों को सजा दिलाने का भरोसा दिलाया।

पुलिस कर रही मामले की जांच

मिली जानकारी के मुताबिक, बुजुर्ग नारायण श्रीवास्तव कमला क्लब इलाके स्थित बंगले में पत्नी उर्मिला, तीन बेटे और बहू के साथ रहते थे। बुधवार सुबह 8 बजे नारायण श्रीवास्तव घर से निकले थे। लेकिन वापस नहीं आए। घर वालों ने उन्हें ढूंढने का खूब प्रयास किया। लेकिन बहुत ढूंढ़ने के बाद भी  वे नहीं मिले। दो दिन बाद पता चला कि उन्होंने ट्रेन के आगे कूदकर खुदकुशी कर ली है, और इसके पहले उन्होंने एक सुसाइड नोट भी लिखा हुआ है।