news21cg

 

मुख्यमंत्री आवास योजना के लिए 508.632 करोड़ रुपए का बजट का किया गया प्रावधान: केशव प्रसाद मौर्य

UP News : उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य (Keshav Prasad Maurya) ने बताया कि वित्तीय वर्ष 2022-23 के लिए मुख्यमंत्री आवास योजना-ग्रामीण (Chief Minister Housing Scheme Rural) के अन्तर्गत 508.632 करोड़ रुपए के बजट (‍Budget) की प्रावधान किया गया है, जिसके सापेक्ष जनपदों से प्राप्त मांग पत्र के अनुसार उन्हें श्रेणी वार लक्ष्य का आवंटन किया गया है।

मुख्यमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के अन्तर्गत प्राकृतिक आपदा, कालाजार, वनटांगिया मुसहर, कोल, नट, चेरों, सहरिया थारू, पछईया लोहार / गढईया लोहार, बैगा (जनजाति) वर्ग, जेई/ एईएस से प्रभावित, कुष्ठ रोग से प्रभावित परिवार छत विहीन और आश्रय विहीन कच्चे/जर्जर आवासों में रह रहे परिवारों को आवास उपलब्ध कराया जा रहा है।  इन्ही पात्रता श्रेणियों में जनपदों द्वारा श्रेणीवार (सामान्य / अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति) मांग पत्र उपलब्ध कराए गए हैं। उप मुख्यमंत्री मौर्य के निर्देशों के क्रम में जनपदों के सम्बन्धित अधिकारियों को जनपदवार / श्रेणीवार निर्धारित लक्ष्य के अनुसार तत्काल मुख्यमंत्री आवास योजना-ग्रामीण के आवासों के पंजीकरण और स्वीकृति की कार्रवाई सुनिश्चित करने के लिए निर्देशित किया गया है।

ग्राम्य विकास विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार, प्राकृतिक आपदा से प्रभावित 15,595 परिवार, वनटांगिया के 14 परिवार, कुष्ठ रोग से प्रभावित 767, जेई के 38 एईएस के 18 कालाजार से प्रभावित 22, कोल के 10,908, सहरिया के 284, नट के 2001 पछईया लोहार के 20, मुसहर के 587, जनपद सोनभद्र में चेरो जनजाति के 3757 और बैगा जनजाति के 1,523 इस प्रकार कुल 35,534 परिवारों के लिए लक्ष्य आवंटित किया गया है।

%d bloggers like this: