news21cg

 

बारिश ने खोली शाहदा नगरपालिका की पोल, सड़कों पर पड़े गड्ढों से हो रहे हादसे

Shahada Municipality : जुलाई की शुरुवात से जब से खानदेश के इलाकों में बारिश (Rain) शुरु हुई है, खराब (Bad) और कच्ची सड़कों (Unpaved Roads) की दशा सामने आ गई है। शहादा शहर में भी कई सड़कों की स्थिती इतनी खराब है कि इनमें बडे-बडे गड्ढे (Big Potholes) हो गए हैं। बारिश के पानी से भरने के बाद ये गड्ढे वाहन चालकों को दिखाई नहीं देते और दुर्घटना (Accident) होती हैं। 

सड़कों को लेकर कई बार शिकायत की जा चुकी है

शहादा शहर की कई सड़कों का यही हाल है। पिछले पांच दिनों से पूरे जिले में जोरदार बारिश हो रही है और शाहदा शहर में जगह-जगह जलजमाव की स्थिति बन गई है। शहर के कई गांवों को जोड़ने वाली शहर की मुख्य कृषि सड़क को लेकर हर तरफ चर्चा हो रही है। यह कृषि सड़क पिछले पांच-छह साल से पूरी तरह से क्षतिग्रस्त है। नगरपालिका हर वर्ष बरसात के मौसम में मुरुम फेंक कर ”रोने वालों नागरिकों के आंसू पोंछने” का कार्य करती आ रही है। इन सड़कों को लेकर कई बार शिकायत की जा चुकी है। लेकिन नगरपालिका किसीभी प्रकार से इस ओर ध्यान ही नहीं देती है। इस साल की पहली बारिश में खेतों की ओर जाने वाली की सड़कों पर बड़े-बड़े गड्ढे हो गए हैं और उन गड्ढों में पानी जमा हो गया है। इससे वाहन चालकों का इन सड़कों पर चलना मुश्किल हो रहा है। टेकभिलाटी, तकिया, गौसिया नगर, टेम्भरूनगर, गरीबनवाज कॉलोनी के स्कूली बच्चे इस सड़क पर चलते हैं और उन्हें अक्सर परेशानी का सामना करना पड़ता है। 

दुपहिया वाहन दुर्घटनाग्रस्त हो जाते हैं

इन इलाकों से गुजरने वाली कच्ची सड़क कभी शहर की मुख्य और खूबसूरत सड़क के रूप में जानी जाती थी। आज सड़क की हालत बहुत खराब है, इसलिए उस रास्ते से आने की किसी की हिम्मत नहीं होती। कई बार शिकायतों के बाद भी नगरपालिका प्रशासन सड़कों की मरम्मत की ओर ध्यान नहीं दे रहा है।  बारिश के दिना में बड़े गड्ढे में पानी भर जाने से वाहन चालाकों को वो गड्ढे दिखाई नहीं देते और दोपहिया वाहन दुर्घटनाग्रस्त हो जाते हैं। नगरपालिका चुनाव करीब हैं और आचार सहिंता भी लगा दी गई है, एसे में किसी प्रकार की शिकायत करने का कोई फायदा नहीं। इस साल का बारिश का मौसम शहादा के नागरिकों को गड्ढे में सड़कों का सहन करते हुए ही निकालना पड़ेगा।

%d bloggers like this: