news21cg

Koffee With Karan : फिल्ममेकर करण जौहर इन दिनों अपने पॉपुलर चैट शो ‘कॉफी विद करण 7’ को लेकर चर्चा में हैं. शो के पहले एपिसोड ही धमाल मचा दिया है. इस शो के सारे सीजन हमेशा से चर्चा में रहे हैं और पॉपुलर भी हैं. लेकिन करण ने कहा कि लोग इसकी आलोचना भी करेंगे और इसे देखते भी हैं. उन्होंने इसे ‘क्रिंज बिंज’ और ‘झूठी खुशी’ देने वाला बताया है. करण ने कहा कि पिछले कुछ सालों में शो के लिए उनकी आलोचना की गई और उन्होंने कहा कि वह इसे गंभीरता से नहीं लेते हैं. उन्होंने यह भी सवाल उठाया कि ऑडियंस ने इसे गंभीरता से क्यों लिया?

करण जौहर ने बॉलीवुड हंगामा को दिए इंटरव्यू में कहा,”मस्ती और मूर्खता हमेशा इरादे और वास्तविक पर हावी होती है. इसलिए मैंने इसे सीख लिया है. मैंने यह महसूस करना सीखा है, ‘हां, यह एक ‘क्रिंज बिंज’ है। इसे देखना झूठी खुशी है. यह एक टाइमपास है. यह मुर्खता है; जब तक आप इसे देखते हैं, तब तक आप जो चाहते हैं उसे बोल सकते हैं.’

करण जौहर ने आगे कहा, “इन सबके बीच में, आपको कुछ गंभीरता मिली और आपने उन शब्दों पर ध्यान केंद्रित किया जो गैर-विवादास्पद और गैर-सनसनीखेज हैं, तो यह बहुत अच्छा है. मैं एक बहुत बड़ा अपसाइड मानता हूं, लेकिन मैं इसकी उम्मीद नहीं कर रहा हूं क्योंकि मैं जानता हूं, मुझे नहीं लगता कि मुझे बुद्धिजीवियों और ऑडियंस द्वारा गंभीरता से नहीं लिया जाता है.”

करण जौहर ने कहा, “इससे एक झूठी खुशी मिलेगी. हर कोई इसे देखेगा लेकिन वे आलोचना करेंगे. इतने सालों तक शो करने के लिए मेरी आलोचना की जाती रही है. इतने चीजों के लिए मुझे जिम्मेदार ठहराया गया है कि ‘यह शो के कारण हुआ, इसके कारण हुआ’. अगर मैं अपने शो कों गंभीरता से नहीं ले रहा हूं, तो आप इसे क्यों गंभीरता से ले रहे हैं?”

करण जौहर ने आगे कहा, “यह इंडस्ट्री के लोगों के साथ एक चैट शो है. इसका मतलब कुछ सिनेमाई बाधाओं या बौद्धिक बाधाओं को तोड़ना नहीं है. यह सिर्फ मनोरंजन और खेल के लिए है. या तो आप इसे देखकर खुश हो सकते हैं, या फिर नहीं देखें.”

%d bloggers like this: