news21cg

IPL 2023 से 2027 सत्र के लिए आइपीएल मीडिया राइट्स 48,390 करोड़ में बेचे गए। आइपीएल IPL के ब्रांड वैल्यू में आए इस उछाल से भविष्य में आइपीएल के विस्तार होने की भी दस्तक दे दी है। यही वजह है कि बीसीसीआइ के सचिव जय शाह ने कहा है कि 2024 एडिशन से आइसीसी एफटीपी कैलेंडर (ICC FTP) में आइपीएल को बड़ा विंडो दिया जाएगा।

पीटीआइ से बातचीत करते हुए जय शाह ने कहा कि “यह एक ऐसा पहलू है जिस पर हमने काम किया है। आपको बता दें कि अगले आइसीसी एफटीपी कैलेंडर में आईपीएल IPL के लिए ढाई महीने की आधिकारिक विंडो होगी, ताकि सभी शीर्ष अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर बिना किसी समस्या के आइपीएल में भाग ले सकें। इसके लिए हमने विभिन्न बोर्डों के अलावा आइसीसी से भी बात की है।”

वर्तमान में 2018 से 2023 के बीच वाला आइसीसी एफटीपी कैलेंडर चल रहा है जो वनडे वर्ल्ड कप के बाद खत्म हो जाएगा। यह वर्ल्ड कप अक्टूबर-नवंबर 2023 में भारत में खेला जाएगा। इसके अलावा बीसीसीआइ बाकी प्रपोजल पर भी बात कर रही है जैसे आइपीएल टीम का ओवरसीज टीम के साथ फ्रेंडली मैच खेलना।

इसके लिए हमें क्रिकेट के बाकी बोर्डों से बात करनी होगी। हालांकि आइपीएल के ज्यादा मैच होने के बावजूद भी आइसीसी कैलेंडर को लेकर बीसीसीआइ अंतर्राष्ट्रीय मैचों को लेकर प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि भारतीय क्रिकेट तभी मजबूत होगा जब वर्ल्ड क्रिकेट विकास करेगा।

उन्होंने कहा कि सभी फार्मेट में सभी बाइलेटरल अंतरराष्ट्रीय प्रतिबद्धताओं का सम्मान किया जाएगा। हम इस महीने टी20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में दो मैचों में आयरलैंड से खेल रहे हैं। हम एक मजबूत अंतरराष्ट्रीय सर्किट चाहते हैं और छोटे क्रिकेट देशों को उनके खिलाफ खेलकर मदद करना चाहते हैं।”

एक साथ दो भारतीय टीमों को लेकर भी बोले शाह

बीसीसीआइ सचिव ने कहा कि वह नेशनल क्रिकेट एकेडमी के हेड वीवीएस लक्ष्मण से भी बात कर रहे हैं कि हमारे रोस्टर में हमेशा 50 खिलाड़ी हो ताकि भविष्य में टेस्ट और वनडे क्रिकेट के लिए दो अलग-अलग भारतीय टीम अलग-अलग देशों में खेल सकें।

%d bloggers like this: