news21cg

Commonwealth Games 2022) में भाग लेने जा रही भारतीय महिला क्रिकेट टीम के मुख्य कोच रमेश पोवार का कहना है कि अगर मौका मिला तो वे बर्मिंघम में बैडमिंटन सुपरस्टार पीवी सिंधु और टोक्यो ओलंपिक गोल्ड मेडल विजेता नीरज चोपड़ा से मिलना चाहेंगे. महिला क्रिकेट कॉमनवेल्थ गेम्स में डेब्यू कर रहा है. भारतीय महिला क्रिकेट टीम के लिए यह मल्टीपल इवेंट्स में पहला अनुभव होगा.

रमेश पोवार ने शनिवार को टीम की रवानगी से पूर्व आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में कहा, ‘‘अगर मौका मिलता है तो हम सभी पीवी सिंधु (PV Sindhu) और नीरज चोपड़ा (Neeraj Chopra) से मिलना चाहेंगे क्योंकि दोनों ने इतने ऊंचे मानक स्थापित किए हैं.’’ उन्होंने कहा, ‘‘साथ ही मैं उनकी मजबूत मानसिकता को पढ़ना चाहूंगा और मैं उनकी तैयारियों के बारे में भी काफी उत्सुक हूं क्योंकि वे जिस तरह से अरबों लोगों के दबाव से निपटते हैं, यह काबिले तारीफ है.’’

उन्होंने कहा, ‘‘हम बतौर ग्रुप इन शीर्ष स्तरीय खिलाड़ियों के साथ कुछ नोट साझा करना चाहेंगे.’’ वह मल्टीपल इवेंट्स का हिस्सा होने को लेकर भी रोमांचित हैं. उन्होंने कहा, ‘‘यह पहली बार है जब हम इस तरह के बड़े टूर्नामेंट में हिस्सा ले रहे हैं. यह हमारी लड़कियों के लिए बड़ा मंच है और उनके पास अपनी प्रतिभा, अपना खेल दिखाने का शानदार मौका है. हम दुनिया को बता सकते हैं कि महिला क्रिकेट विभिन्न तरह की प्रतिस्पर्धाओं में हिस्सा ले सकता है.’’

रमेश पोवार ने कहा, ‘‘हम सभी ने और मैंने बतौर क्रिकेटर ओलंपिक और कॉमनवेल्थ गेम्स खेल देखें हैं. हमने अपने देश का तिरंगा ऊंचा लहराते हुए देखा है. यह हम सभी के लिए अच्छा प्रदर्शन करने और देश को फक्र महसूस कराने का मौका है.’’ भारत को ग्रुप ए में चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान, ऑस्ट्रेलिया और बारबाडोस के साथ रखा गया है. भारतीय टीम अपना अभियान 29 जुलाई को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ शुरू करेगी.

कप्तान हरमनप्रीत कौर कॉमनवेल्थ गेम्स को लेकर बेहद रोमांचित
भारतीय महिला क्रिकेट टीम की कप्तान हरमनप्रीत कौर कॉमनवेल्थ गेम्स को लेकर बेहद उत्साहित हैं. उन्होंने बर्मिंघम रवानगी से कहा, ‘‘यह टूर्नामेंट हमारे लिए काफी महत्वपूर्ण है. इस बार हम पदक के लिए खेल रहे हैं. अगर मैं खुद के बारे में बात करूं तो हम इस तरह के टूर्नामेंट देखते हुए बड़े हुए हैं और हम खुश हैं कि हमें भी एक मौका मिल रहा है, हम भी इस बड़ी प्रतियोगिता का हिस्सा होंगे.’’