news21cg

साई पल्लवी (Sai Pallavi) इन दिनों अपनी हालिया रिलीज ‘विराट पर्वम’ की सक्सेज को एंजॉय कर रही हैं. फिल्म में वे बाहुबली के भल्लालदेव यानी राणा दग्गुबाती (Rana Daggubati) के साथ नजर आई थीं. दोनों के अभिनय को लोगों से सकारात्मक प्रतिक्रियाएं मिली हैं और अपने एक बयान के जरिए विवादों में रहने के बावजूद भी लोगों ने एक्ट्रेस के अभिनय को सराहा है. मालूम हो कि एक्ट्रेस ने कुछ दिन पहले अपनी फिल्म के प्रमोशन के दौरान कश्मीरी हिंदु के नरसंहार की तुलना गायों की तस्करी करने वाले मुस्लिम ड्राइवर की मॉब लिचिंग से कर दी थी. इसके बाद उनका नाम विवादों में रहा लेकिन माफी मांगने के बाद सब कुछ ठीक हो गया..अब एक्ट्रेस अपने एक दिलचस्प किस्से को लेकर चर्चा में हैं जो उनके स्कूल डेज के दौरान का लव लैटर के बारे में हैं.

बचपन के प्यार को लिखा था पत्र और खूब हुई पिटाई

साई पल्लवी ने हाल ही में एक यूट्यूब चैनल ‘माई विलेज शो’ के साथ बातचीत के दौरान अपने बचपन का एक मजेदार किस्सा साझा किया है. अभिनेत्री ने खुलासा किया कि स्कूल में एक लड़के को लिखे प्रेम पत्र के बारे में पता चलने के बाद उसके माता-पिता ने उनकी पिटाई की थी. अभिनेत्री की उनके बारे में बेबाक बातचीत इंटरनेट पर लोगों का दिल जीत रही है और वे बीते दिनों की यादों को तरों ताजा कर रही हैं. चूंकि ऐसा वाक्या बहुत से बच्चों के साथ होता है जब वे बचपन के प्यार में होते हैं और एक दूसरे को प्रेम पत्रों के जरिए अपनी मोहब्बत का इजहार करते हैं, जैसे ही इस बारे में पेरेंट्स को पता चलता तो कई दफा मार भी पड़ती है और पाबंदियां भी लगाई जाती हैं.

लव लैटर के टक्कर भूल गई पत्र लिखना

अभिनेत्री ने बताया कि लव लैटर के चक्कर में उन्होंने अपने पेरेंट्स से पहली बार फटकार खाई और इसके बाद कभी भी दूसरा पत्र भेजने का प्रयास भी नहीं किया. एक बार में ही उन्हें ऐसी डांट और मार पड़ी कि वे दोबारा इस तरह की गुस्ताखी करना भूल गईं. वहीं जब यही सवाल उनके को-स्टार राणा दग्गुबाती से किया गया, तो जवाब मिला कि उन्होंने बचपन में अपने दिवंगत दादा दग्गुबाती रामानायडू को एक पत्र लिखा था. बस यही था और इसके बाद कभी नहीं किसी को लैटर भेजा.

राणा दग्गुबाती की फिल्म में पत्र भेजने के लिए जान जोखिम में डालतीं साई पल्लवी

साईं पल्लवी ने ‘विराट पर्वम’ में वेनेला की भूमिका निभाई थी, जो राणा दग्गुबाती को एक पत्र देने के प्रयास में अपनी जान जोखिम में डालती है. जब उनसे पूछा गया कि क्या उन्होंने वास्तविक जीवन में भी ऐसा ही किया है, तब उन्होंने बचपन के इस मजेदार किस्से का जिक्र किया था और बताया कि असल जिंदगी में उन्होंने सिर्फ एक बार एक खत लिखा था, जो कि एक लड़के के लिए था. एक्ट्रेस उस दौरान सातवीं कक्षा में थी. अब साई पल्लवी अपकमिंग फिल्म गार्गी की तैयारी कर रही हैं.

%d bloggers like this: