news21cg

बाढ़, बारिश और भूस्खलन से अलग-अलग जिलों में अब तक 136 लोगों की जान चली गई है। रायगढ़ में अब तक भूस्खलन से 44 लोगों की जान गई है।

बाढ़, बारिश और भूस्खलन से अलग-अलग जिलों में अब तक 136 लोगों की जान चली गई है। रायगढ़ में अब तक भूस्खलन से 44 लोगों की जान गई है।

अमरावती. जिले में हुई अतिवृष्टि का निरीक्षण कर उसकी रिपोर्ट प्रदेश कांग्रेस कमेटी को सौंपने के उद्देश्य से सोमवार 25 जुलाई को कांग्रेस की समिति अमरावती जिले के नुकसानग्रस्त क्षेत्र के दौरे पर पहुंची. इस दौरान समिति ने रोहनखेड़ा, देवरा, सावंगा का निरीक्षण किया. पूर्व पालकमंत्री यशोमति ठाकुर के नेतृत्व में किए गए दौरे में कांग्रेस ग्रामीण जिलाध्यक्ष बबलू देशमुख प्रमुख रूप से उपस्थित थे.

मदद दिलाने प्रयास

अतिवृष्टि के कारण राज्य में हाहाकर मचा हुआ है और बड़े पैमाने पर गांवों से संपर्क टूट गया है. कई जगह लोगों की मृत्यु भी हुई है. कई लोगों ने अपने पशुओं को गंवा दिया है. अतिवृष्टि के कारण खेत की फसल और बाग में लगे फलों का नुकसान हुआ है. राज्य में सभी नुकसान की समीक्षा कर उसकी विस्तृत रिपोर्ट तैयार एकत्र की जाएगी. इसका उद्देश्य नुकसानग्रस्त किसानों की मदद करना है जिसके लिए शासन स्तर पर फॉलोअप लिया जाएगा.

इसके लिए सभी जिलों में जिलस्तरीय समिति का गठन किया गया है. अमरावती जिले में पूर्व पालकमंत्री ठाकुर की अध्यक्षता में समित का गठन किया गया है. इसके अलावा समिति में किशोर गजभिये, विधायक बलवंत वानखडे, शकूर नागाणी, प्रकाश तायडे, धनंजय देशमुख शामिल हैं. सोमवार को दौरे में इनके अलावा सुधाकर भारसाकले, प्रकाश कालबांडे, बालासाहब हिंगणीकर उपस्थित थे.

%d bloggers like this: