news21cg

चीन बुलेट ट्रैन से एक बड़ा रेल हादसा हुआ है। वहां के गुइझोउ प्रांत में 300 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से दौड़ रही एक बुलेट ट्रेन के दो डिब्बे पटरी से उतर गए। इस हादसे में चालक की मौत हो गई और 7 यात्री घायल बताए जा रहे हैं। चीन बुलेट ट्रैन चीन के दक्षिण पश्चिमी प्रांत गुइयांग से दक्षिणी प्रांत ग्वांगझू की ओर चल रही थी। शनिवार को सुबह 10 बजकर 30 मिनट पर भूस्खलन के कारण गुइझोउ के एक स्टेशन पर ट्रेन के डिब्बे पटरी से उतर गए जिससे ट्रेन के चालक की मौके पर ही मृत्यु हो गई। चीन के स्थानीय मीडिया आउटलेट ग्लोबल टाइम्स ने शनिवार को एक ट्वीट कर इसकी जानकारी दी।

चीन बुलेट ट्रैन
बुलेट ट्रैन

सुरंग के प्रवेश द्वार पर पटरी से उतरे डिब्बे

जानकारी के अनुसार जिस समय ट्रेन युएझाई सुरंग के प्रवेश द्वार पर पहुंची उसके सातवें और आठवें डिब्बे पटरी से उतर गए। सभी घायल यात्रियों को स्थानीय अस्पताल भेजा गया है और अन्य 136 यात्रियों को बचा लिया गया है। मौके पर बचाव कार्य जोरों पर है और दुर्घटना के कारणों की जांच की जा रही है।

पहले भी हो चुकी ऐसी घटना

बता दें कि इससे पहले मध्य चीन के हुनान प्रांत में एक ट्रेन पटरी से उतर गई थी। उस घटना के दौरान उसमें सवार रेलवे पुलिसकर्मी की मौत हो गई, 4 गंभीर रूप से घायल हो गए थे, जबकि 123 मामूली रूप से घायल हो गए। तब भी हादसे का कारण लगातार बारिश होना और भूस्खलन था।

350 किलोमीटर प्रति घंटे की होने वाली थी रफ्तार

पटरी से उतरने की ताजा घटना 13 मई को चीन रेलवे की उस घोषणा के बाद आई है जिसमें कहा गया था कि बीजिंग को दक्षिण चीन के ग्वांगडोंग प्रांत से जोड़ने वाली हाई-स्पीड रेलवे की संचालन गति 350 किलोमीटर प्रति घंटा तक कर दी जाएगी। चीनी रेलवे के अनुसार, यह इतनी गति से चलने वाली चीन की पांचवीं हाई-स्पीड रेल बन जाएगी।

1,330 किमी. की यात्रा केवल 3 घंटे 48 मिनट में

बता दें कि 20 जून से बीजिंग को मध्य चीन के हुबेई प्रांत की राजधानी वुहान से जोड़ने वाले खंड पर यह ट्रेन 350 किमी/घंटा की गति से संचालित होगी। स्पीड बढ़ाने के बाद, बीजिंग से वुहान तक का न्यूनतम परिवहन समय लगभग 1,330 किलोमीटर की यात्रा को घटाकर 3 घंटे 48 मिनट कर दिया जाएगा।

चीन में केवल चार हाई-स्पीड रेल

वर्तमान में, चीन में 350 किमी/घंटा की गति से चलने वाली केवल चार हाई-स्पीड रेल हैं, जो ज्यादातर छोटी दूरी की यात्रा के लिए हैं। वे बीजिंग-शंघाई हाई-स्पीड रेल, बीजिंग-टियांजिन इंटरसिटी रेल, चेंगदू-चोंगकिंग हाई-स्पीड रेल और बीजिंग-झांगजियाकौ हाई-स्पीड रेल के कुछ हिस्से हैं। बीजिंग-गुआंगजौ रेल यात्रा दूरी के मामले में भी सबसे लंबी है।

%d bloggers like this: