news21cg

इंदौर के जिस कल्याणमल नर्सिंग होम में बॉलीवुड के सुपर स्टार सलमान खान का जन्म हुआ था, वो अब प्रदेश के सबसे अत्याधुनिक हॉस्पिटल के तौर पर पहचाना जाएगा. नया हॉस्पिटल बनकर तैयार हो गया है. सरकार ने जर्जर हो चुके कल्याणमल नर्सिंग होम को अत्याधुनिक आई हॉस्पिटल में तब्दील कर दिया है. जिस जगह सलमान खान का जन्म हुआ था, उसे उसी स्वरूप में संजोया गया है. साथ ही उनकी याद हमेशा बनी रहे, इसलिए सलमान खान की बचपन की फोटो वाली एक गैलरी भी इस अस्पताल में बनाई गई है,इस अस्पताल का उद्घाटन सलमान खान के हाथों कराने की तैयारी भी की जा रही है.

इंदौर संभाग के कमिश्नर डॉ.पवन शर्मा का कहना है सलमान खान के परिवार के लोग इस अस्पताल के करीब ही रहते हैं. इसलिए उनके परिवार के माध्यम से सलमान खान से संपर्क कर बातचीत की जाएगी. हमारा प्रयास है कि सलमान खान इंदौर आकर इस अस्पताल का उद्घाटन करें.

ठेकेदार को जेल भेजने की चेतावनी
महात्मा गांधी मेमोरियल मेडिकल कॉलेज के अधीन बने इस स्कूल ऑफ़ एक्सीलेंस फ़ृॉर आई सेंटर में अभी काम पूरा होना बाकी है. नहीं हुआ है. इंदौर संभाग के कमिश्नर डॉ. पवन शर्मा ने इस पर नाराजगी जताई. काम पूरा न होने पर पीडब्ल्यूडी के 5 अधिकारियों को सस्पेंड करने और ठेकेदार को जेल भेजने की बात मीटिंग के दौरान कही. करीब 40 करोड़ की लागत से बने इस आई सेंटर को एक अगस्त से शुरू करना है. लेकिन अब तक हॉस्पिटल के ऑपरेशन थिएटर अधूरे पड़े हुए हैं. कमिश्नर शर्मा ने पीडब्ल्यूडी के अधिकारी और ठेकेदार को कड़ी फटकार लगाते हुए काम जल्दी निपटाने के आदेश दिए.

इस आई सेंटर में 6 ऑपरेशन थिएटर बनाए गए हैं. जिनमें से चार में हॉस्पिटल शुरू होने के पहले ही ऐसी बंद होने की समस्या शुरू हो गई. जिस ठेकेदार को हॉस्पिटल के एसी और बिजली का काम दिया था, उसने एसी से लेकर इलेक्ट्रॉनिक के जितने काम किए उसमें कई तरह की दिक्कतें सामने आयीं. इस पर कमिश्नर डॉ पवन शर्मा ने ठेकेदार को कड़ी फटकार लगाते हुए कहा दो दिन में काम पूरा हो जाना चाहिए. नहीं तो जेल जाने के लिए तैयार रहना. इसी तरह ऑक्सीजन और सक्शन लाइन को लेकर पीडब्ल्यूडी के अधिकारी और आर्किटेक्ट इंजीनियर पर भी नाराजगी जताई. पीडब्ल्यूडी ने सक्शन मशीन न लगाते हुए,उसकी राशि  छत पर 25 लाख रुपए का टीन शेड बनाने में इस्तेमाल कर ली.

कई अनियमितताएं
हॉस्पिटल में कई तरह की अनियमितताएं सामने आई हैं. इन सबके बावजूद फिलहाल इंदौर संभाग आयुक्त 1 अगस्त से अस्पताल को शुरू करने की बात कर रहे हैं. साथ ही एससीएस मेडीकल एजुकेशन की टीम भी इस अस्पताल का दौरा करने वाली है. इस हॉस्पिटल को नेत्र रोग विभाग का राष्ट्रीय स्तर का केंद्र बनाया जा रहा है.

%d bloggers like this: