news21cg

कंगना रनौत (Kangana Ranaut) की अपकमिंग फिल्म ‘इमरजेंसी’ (Emergency) का टीजर और फर्स्ट लुक पोस्टर 14 जुलाई को रिलीज हुआ. पोस्टर में कंगना हुबहू इंदिरा गांधी (Kangana Ranaut as Indira Gandhi) की तरह ही नजर आईं. अदाकारा के बॉडी ट्रांसफॉर्मेशन देखकर हर कोई हैरान गया. इसी बीच एक इंटरव्यू में कंगना ने अपने लुक का श्रेय ऑस्कर विजेता प्रोस्थेटिक मेकअप डेविड मालिनोवस्की (David Malinowski) को दिया.इसके साथ ही उन्होंने बताया कि डेविड ने उनके और इंदिरा गांधी के बीच क्या एक जैसी चीजें नोटिस किया.

आपको बता दें कि डेविड मालिनोवस्की ने 2018 बाफ्टा और 2017 की फिल्म डार्केस्ट ऑवर में सर्वश्रेष्ठ मेकअप और हेयरस्टाइल के लिए ऑस्कर सहित कई पुरस्कार जीत चुके हैं. कंगना को इंदिरा गांधी का यह रूप उन्होंने ही दिया है.

लुक का श्रेय ऑस्कर विजेता को दिया
मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, कंगना ने अपने लुक का श्रेय ऑस्कर विजेता मेकअप आर्टिस्ट डेविड मालिनोवस्की को देते हुए बताया कि डेविड और उनकी टीम काफी प्रोफेशनल हैं. उन्होंने बताया कि एक दिन शाम के वक्त पूरी टीम ने लंदन से उड़ान भरी. फाइलन टच देने के लिए उनकी कई बैठकें हुईं और लुक टेस्ट का एक बंच सामने आया.

कंगना ने आगे बताया कि उन्हें डेविड मालिनोवस्की ने कॉल आया, यह पूछने के लिए कि इसे कैसे बारीकी के साथ किया जाए. इसके बाद कंगना ने  डेविड द्वारा कही बातों का खुलासा किया और कहा कि डेविड बातचीत ने कहा वह शारीरिक रूप से श्रीमती गांधी से बहुत मिलती-जुलती हैं, खास कर स्कीन और जॉलाइन की बनाटव में काफी कुछ एक जैसा है.

इंदिरा गांधी के रोल के लिए हैं परफेक्ट पर्सन
रिपोर्ट के अनुसार, डेविड मालिनोवस्की से अपनी तारीफ सुनने के बाद कंगना ने उन्हें यह भी बताया कि भारत में अधिकतर लोगों का कहना है कि ‘इंदिरा गांधी’ की भूमिका निभाने के लिए वह परफेक्ट पर्सन हैं.
आपको बता दें कि कंगना की अपकमिंग फिल्म 1975 में उस वक्त की प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की ओर से लगाई गई इमरजेंसी पर आधारित है.

फिल्म की शूटिंग शुरू
बता दें कि बीते दिन कंगना ने फिल्म से अपना लुक और टीजर शेयर करने के बाद अपने सोशल मीडिया पर जानकारी दी की उनकी ‘इमरजेंसी’ की शूटिंग शुरू हो गई है’ . फिल्म पर बात करते हुए कंगना ने एक स्टेटमेंट जारी किया और बताया कि जहां कहा कि ये फिल्म इंडियन पॉलिटिक्स के उस दौर की कहानी है जिसने पावर शब्द का मतलब बदल दिया. कंगना के मुताबिक उन्होंने फिल्म की रिसर्च पर तसल्ली से मेहनत की और जब उन्हें लगा कि होमवर्क सॉलिड हो गया है, तभी फिल्म की शूटिंग शुरू की. इससे पहले कंगना ये क्लियर कर चुकी हैं कि ‘इमरजेंसी’ इंदिरा गांधी की बायोपिक नहीं. बल्कि, ये इमरजेंसी के दौर की कहानी बताएगी.

%d bloggers like this: